शनिवार, 20 मार्च 2021

How Many Words We Should Use for Blogging? In Hindi

कोई टिप्पणी नहीं :

How Many Words We Should Use for Blogging? In Hindi



हाउ मेनी वर्ड्स वी शुल्ड यूज फोर ब्लॉगिंग

ये एक ऐसा सवाल है जिसका कोई एक्यूरेट जवाब नहीं है। फिर भी ये बोल सकते है, कि मिनिमम 300 वर्ड्स और मैक्सिमम 2500 वर्ड्स तक ब्लॉग लिख सकते है। 

इस सवाल को जितना डेप्थ मे समजना भोत जरूरी हे, ताकी इस वर्ड्स की कहानी को आसानी से समझा जा सके।


SEO के लिए ब्लॉग पोस्ट कितने शब्द होनी चाहिए?


ब्लॉग का मेन पर्पज अपनी रेलावंट ऑडियंस से कनेक्ट करना होता है। और अपनी साइट पे ट्रैफिक बूस्ट करना और क्वालिटी लीड्स लाना भी होता है।


ऐसे में कॉन्टेंट जितना तेजी से आपके ऑडियंस तक पोचेगा उतना आपकी वेबसाइट से विजिट बढ़ने के चांसेज बढ़ेगे और यही तोह आप चाहते है।


ये तोह सभी चाहते है, कि उनके ब्लॉग पे जादा रीडर्स जादा कॉमेंट्स ज्यादा लिंक्स और जादा ट्रैफिक आए। 


लेकिन इस के लिए एक ब्लॉगर की दौर पे कुछ बातें जानने की जरूरत होगी। क्युकी आपकी ब्लॉग की लेंथ कितनी होनी चाहिए? यानी कितने वर्ड्स का ब्लॉग होना चाइए? जिससे आपका ब्लॉग हाई रैंकिंग में आ सकता है।


ब्लॉग कितने शब्दों का होना चाहि? 300 शब्द ब्लॉग पोस्ट उदाहरण।


इसके साथ भोत से फैक्टर जुड़े होते है, जैसे कि अगर आप जादा शेयर और कमेंट चाहते है, तो आप स्टैंडर्ड ब्लॉगिंग लेंथ 300 से 600 वर्ड्स का ब्लॉग लिख सकते है, जिससे आपको एवरेज शेयर और कमेंट मिल जायेगे।


लेकिन सर्च इंजन के लिए ये आइडियल लेंथ नहीं है। अगर आप न्यूज के लिए ब्लॉग लिखते है,  तोह 750 वर्ड्स मे आपको दूसरे ब्लॉगर्स से लिंक्स और सोशियल मीडिया पर अच्छी खासी शारिंग और कमेंट आपके ब्लॉग पर आएंगे।


अगर आप ज्यादा शेयर चाहते है, तो 1000 से 1500 वर्ड्स अपने ब्लॉग में लिखे। लेकिन इस लेंथी ब्लॉग मे आप रीडर्स के कोई ऐसी प्रबलम का सॉल्यूशन दे जिसकी उनको जरूरत हो।


और उन्हें इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर करना जरूरी लगे। ब्लॉग के लैंथी होते जाने के साथ उससे मिलने वाले ट्रैफिक का रिलेशन भोत हद तक आपके कॉन्टेंट से होगा।


Ideal blog post length 2021.


इसीलिए भेतर कॉन्टेंट के लिए आपको क्या करना चाइए इस बारे में भी जनेगे। पहेली ये जानते है कि ब्लॉग अगर 1500 वर्ड्स से बडा होगा तो क्या कोई उसे पड़ेगा।


1600 वर्ड्स यानी 7 मिनट रीडिंग टाइम आइडियल माना जाता है। और 2500 वर्ड्स के ब्लॉग को हाई रैंकिंग मिलती है। 


अगर आप सर्च इंजन पे अच्छी रैंकिंग चते है, और हर महीने हजारों नए रीडर्स चते है, तो आपको इस लेंथ के ब्लॉग लिखने चाइए। लेकिन इसके लिए आपका कंटेंट  बढ़िया होना चाहिए और आपके रीडर्स के सर्च को सेटिस्फाई करने वाला भी


इसका मतलब ये हुआ कि आपको 1000 से 2500 वर्ड्स का ब्लॉग लिखना पड़ेग।


लेकिन प्रबोबलम तब अति ह जब ब्लॉगर सिर्फ रैंकिंग पे ही ध्यान देते और कॉन्टेंट पे नहीं। ऐसे में उनकी कॉन्टेंट की क्वालिटी कम हो जाती है।


और रीडर्स के सतिस्फैक्शन नहीं होते है। और उनका ब्लॉग रिक्वायर्ड लेंथ होने के बाद भी अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाता।


इसलिए सिर्फ ब्लॉग की लेंथ को ध्यान में रखकर लिखने ना बल्कि उस टॉपिक की दीप और इंपोर्टेंट इंफॉर्मेशन शेयर करने के लिए ब्लॉग लिखे।


फिर चाहे वो 1500 वर्ड्स मे आ जाए या 2500 वर्ड्स मे हो सकता है 3000 वर्ड्स भी लग जाए। लेकिन आपका ब्लॉग कंटेंट इंपोर्टेंट, एक्साइटिंग, प्रॉब्लम सॉल्विंग, और जिसपे एक्शन लिया जा सके ऐसा होना चईय। ना की बे वजह लिखा वाला एक बोरिंग टॉपिक । 

इसलिए आपको लेंथ के लिए तो लिखना ह लेकिन साथ में रीडर का ध्यान रखते हुए उनके प्रॉब्लम के सॉल्यूशन के लिए भी लिखना है।


Ideal article length


वैसे ये वर्ड लेंथ हर इंडस्ट्री पर बेस्ड ब्लॉग के अकॉर्डिंग अलग अलग भी होते है।


  • फाइनेंस ब्लॉग - 2100 से 2500 वर्ड्स.
  • हैल्थ केयर - 2000 से 2150 वर्ड्स.
  • मैन्युफै्चरिंग इंडस्ट्री - 1700 से 1900 वर्ड्स.
  • होम एंड गार्डन - 1100 से 1200 वर्ड्स.
  • टेक्नोलॉजी - 800 से 1000 वर्ड्स.
  • फैशन - 800 से 950 वर्ड्स.
  • फूड - 1400 से 1900 वर्ड्स.
  • ट्रैवल के लिए 1500 से 1850 वर्ड्स.


यानी आप जिस इंडस्ट्री पे बेस्ड ब्लॉगिंग करते है, उसके अकॉर्डिंग वर्ड लेंथ का आइडिया लेके ब्लॉगिंग सुरु कर सकते है।


 ब्लॉग पर कितनी पोस्ट करें? 


अच्छी रैंकिंग के लिए हफ्ते में 2 या 4 पोस्ट जरूर करें। जितना जलदी जलदी ब्लॉग पोस्ट करेगे उतना ही आपके ब्रांड आपके प्रोडक्ट मे ट्रस्ट डेवलप होगा। 


जिससे आपके ब्लॉग को विजिट और कन्वर्शन दोनों मे ही बेस्ट रिजल्ट मिल सकेगे। अपने ब्लॉग की लैंग्वेज आसान रखिए ताकि उसे आसानी से पढ़ा जा सके और पढ़ने का मन भी करे।


अपनी इंफॉर्मेशन छोटे छोटे पैराग्राफ मे लिखे। और ब्लॉग मे टाइटल सबटाइटल और हाइलाइट्स का यूज करे ताकि रीडर्स का इंटरेस्ट बना रहे।


टारगेट लेंथ पूरा करने के लिए बेवजह के वर्ड्स अपने ब्लॉग मे यूज ना करे। ऐसा करने से आपके कॉन्टेंट की वैल्यू गिरेगी।


अपने कंटेंट मे एक्टिव वॉयस बर्ब का यूज करे। यानी आप अपने रीडर से डायरेक्ट बात करे। और उन्हें एक्शन लेने के लिए एनकरेज करे।


लैंग्वेज ऐसी ही रखे जैसे आप अपने दोस्तो से ही बात करते हो। 


अगर आप चाहते है कि आपके ब्लॉग पे जादा से जादा रीडर्स आए तो अपने ब्लॉग मे कॉन्टेंट के साथ साथ फोटोज और विडियोज की भी एड करे। जो रीडर्स को बोर होने से बचाएं।


इतनी सारी बातो के बाद भी ये नहीं पता चला कि आपको एक्जेक्ट कितने वर्ड्स का ब्लॉग लिखना है। आपको सिर्फ अपने कंटेंट की क्वालिटी पे ध्यान देना है, और ये भी ध्यान रखना है, की आपके रीडर्स बोर ना हो और उनका इंटरेस्ट बना रहे।


आपके निस के अकॉर्डिंग आपके ब्लॉग की लेंथ डिसाइड करे। आशा करता हूं, आज का ब्लॉग अच्छा लगा होगा आपका कोई सवाल है, तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं :

टिप्पणी पोस्ट करें